प्रेगनेंसी में ब्लड बढ़ाने के उपाय | Iron Rich Foods for Pregnancy in Hindi

in #palnet7 months ago


Iron Rich Foods for Pregnancy in Hindi | प्रेगनेंसी में ब्लड बढ़ाने के उपाय

किसी भी औरत के लिए गर्भावस्था उसके जीवन का सबसे महत्वपूर्ण क्षण होता हैं। यही से उसके जीवन की एक नई शुरुआत होती हैं। जीवन की नई शुरुआत में अगर कोई रुकावट आती हैं या पौष्टिक भोजन नहीं मिल पाता है तो अनेक प्रकार की समस्याएं पैदा हो जाती हैं। जिसके कारण बाकी की जिंदगी में अनेक प्रकार की समस्याएं पैदा हो जाती हैं।

गर्भवास्था के दौरान महिला के शरीर में रक्त की सप्लाई 50 प्रतिशत तक बढ़ जाती हैं। इसलिए इस दौरान महिला को आयरन से भरपूर भोजन की बहुत ही ज्यादा आवश्यकता होती हैं ताकि उसके शरीर मे पर्याप्त मात्रा में लाल रक्त कणिकाओं का निर्माण हो सके और महिला के शरीर मे आवश्यक रक्त की पूर्ति भी आसानी से हो सके। आयरन रिच फ़ूड का सेवन ही आपके बच्चे की सेहत के लिए काफी लाभकारी होगा।

गर्भावस्था में आयरन के लिए क्या खाएं | What can I take for iron during pregnancy?

आज के इस आर्टिकल में हम आपको आयरन से भरपूर अनेक प्रकार के भोज्य पदार्थों के बारे में जानकारी देंगे क्योंकि गर्भावस्था एक ऐसी स्थिति हैं, जिसमें अपनी इच्छा अनुसार कुछ भी खाया या पिया नही जा सकता हैं, बल्कि आने वाले बच्चे की सेहत को ध्यान में रखकर सेवन किया जाता हैं। 

आज के इस आर्टीकल में हम आपको ऐसे फ़ूड आइटम के बारें में जानकारी देंगे जो आपके शरीर मे आयरन की मात्रा को तो बढ़ाएंगे साथ ही साथ आपके बच्चे की सेहत के लिए भी उतना ही लाभकारी होगा।

गर्भवास्था में लिए खाए जाने वाले भोजन को आयरन की उपलब्धता और शाकाहार और मांसाहार के आधार पर दो भागों हेम आयरन और नॉन हेम आयरन फ़ूड में बांटा गया हैं।

हेम आयरन फ़ूड | Heme Iron Foods:

हेम आयरन फ़ूड में मांसाहार भोजन को शामिल किया गया हैं। जिसका पाचन हमारें शरीर मे आसानी से और  कम समय मे हो जाता हैं|

मांसाहार में एनिमल प्रोटीन पाया जाता हैं। जिंसमे आयरन की काफी अधिक मात्रा पाई जाती हैं लेकिन इस दौरान कच्चा मांस और कच्ची मछली खाना आपके और आपके बच्चे के लिए खतरनाक हो सकता हैं, इसलिए कच्चा मांस या मछली खाने से बचें।

गर्भावस्था में मछली कैसे खाएं | How to eat fish during pregnancy?

वैसे तो मछली में काफी ज्यादा मात्रा में आयरन पाया जाता हैं लेकिन इसका मतलब ये नही हैं कि गर्भावस्था के दौरान आप भरपूर मात्रा में मछली का सेवन करें। क्योंकि मछली में जितनी मात्रा आयरन की होती हैं। उससे ज्यादा मर्करी की मात्रा भी होती हैं,जो आपको और आपके बच्चे को नुकसान पहुंचा सकती हैं।

फिर भी आप सैल्मन फिश को अच्छे से पका कर खा सकते हैं। सैल्मन फिश में ओमेगा - 3 फैटी एसिड भी पाया जाता हैं जो आपके बच्चे के लिए काफी ज्यादा लाभकारी हो सकता हैं।

सैल्मन मछली के अलावा आप अपने भोजन में आयरन के लिए 

  • ट्यूना
  • कैटफिश
  • श्रिंप को भी शामिल कर सकते हैं।

नॉन हेम आयरन फ़ूड | Non Heme Iron Food

नॉन हेम आयरन फ़ूड में सभी प्रकार के अनाज, दालें और सूखे मेवों को शामिल किया गया हैं। जिनका पाचन शरीर में काफी देर से होता हैं और इससे आयरन को सोखने में भी ज्यादा समय लगता हैं।

बिन्स | Beans: 

जितने भी प्रकार के बिन्स हैं या दानें हैं उन सभी मे फाइबर और प्रोटीन की काफी ज्यादा मात्रा पाई जाती हैं। जो आपके बच्चे और आपको स्वस्थ रखने के लिए काफी आवश्यक होता हैं। इसके अलावा ये आयरन से भी भरपूर होते हैं।

एक कप दाल | Lentils:

आपकी रोज के आयरन की आवश्यकता की पूर्ति सिर्फ एक कप दाल से हो सकती हैं। एक कप दाल से आपको  6.6 मिलीग्राम आयरन मिलता हैं। 

पालक और केल | Spinach & Kale:

में एंटीऑक्सीडेंट, विटामिन्स और आयरन भी पर्याप्त मात्रा में पाया जाता है। इन्हें भी आप अपने भोजन में शामिल कर सकते हैं क्योंकि एक ग्राम पकी हुई केल से आपको 1 मिलीग्राम आयरन मिलता हैं तो वही पालक से 6.4 मिलीग्राम आयरन की प्राप्ति होती हैं।

ब्रोकली | Broccoli:

आप खाने में ब्रोकली को भी शामिल कर सकते हैं क्योंकि एक कप ब्रोकली से आपको 1 मिलीग्राम आयरन तो मिलता ही हैं लेकिन इसके साथ - साथ आपको इससे विटामिन सी भी मिलता हैं, जो आयरन के अवशोषण के लिए आवश्यक होता हैं।

गर्भावस्था में आयरन की कितनी मात्रा की आवश्यकता होती हैं ? How much iron does a pregnant woman need daily?

विशेषज्ञ की माने तो समान्या दिनों में जहां महिलाओं को मात्र 18 मिलीग्राम आयरन की आवश्यकता होती हैं तो वही गर्भावस्था के दौरान ये मात्रा बढ़कर दोगुनी हो जाती हैं।

गर्भावस्था के समय महिलाओं को रोजाना 27 मिलीग्राम आयरन की आवश्यकता होती हैं तो वही अगर विश्व स्वास्थ्य संघठन की रिपोर्ट की बात करें तो एक गर्भवती महिला को हर रोज लगभग 30 से 60 मिलीग्राम आयरन की आवश्यकता होती हैं।



⭐️⭐️ गर्भावस्था में कौन से फल नहीं खाने चाहिए? Fruits to Avoid During Pregnancy in Hindi

निष्कर्ष | Conclusion

गर्भावस्था किसी भी माँ के लिए एक सबसे बड़ी जिम्मेदारी होती हैं। इस दौरान गर्भवती महिला को फूंक फूंक कर कदम रखना होता हैं क्योकि उसके कदमो पर ही आने वाले कल का सुनहरा भविष्य और आज का वर्तमान टिका होता हैं। इस दौरान किसी भी प्रकार की लापरवाही से बचना चाहिए और डॉक्टर की सलाह के अनुसार ही चलना चाहिए। बिना डॉक्टर की सलाह के किसी भी चीज का सेवन करने से बचना चाहिए।

हमने इस आर्टिकल में आयरन से सम्बंधित मांसाहारी और शाकाहारी दोनों ही फूड्स की बात की हैं और ये भी बताया हैं की किससे कितना आयरन प्राप्त हो सकता हैं।

हमारें द्वारा दी गई जानकारी आपको  कैसी लगी ? ये आप हमें कमेंट बॉक्स में जरूर बताएं और इस महत्वपूर्ण जानकारी को शेयर करना नहीं भूलें।

Also See Other Pregnancy Related Articles:

खून की कमी को दूर करने वाले फल | Which fruits are best for anemia?

गर्भावस्था में केले के फायदे – Pregnancy me kela khana chahiye

Folic Acid ke Fayde in Hindi | फोलिक एसिड के फायदे

प्रेगनेंसी में खून बढ़ाने के उपाय | लक्षण | कारण

Pregnancy me iron ke liye kya khaye

#Pregnancy #foods #गर्भावस्था #health #womenshealth #pregnantwomen #hindi #healthdear


Posted from my blog with Exxp : https://healthdear.com/pregnancy-me-iron-ke-liye-kya-khaye/

Find Me on the Other Social Media Platforms::

Earn 15 LBCs for FREE... YES for FREE...
HealthDear Youtube; Information tied to Health
HealthDear LearnTogether; Learn English & Hindi
HealthDear LearnTogether FaceBook Page